Dushman ko bimar karne ka upay tarike

Dushman ko bimar karne ka upay tarike प्रिय पाठकों स्वागत है आप सभी का हमारी इस वेबसाइट के अंदर आज हम आपको ऐसे चमत्कारी और शक्तिशाली टोटकों के बारे में बताने जा रहे हैं जिसके माध्यम से आप अपने शत्रु को मार सकते हैं या अपने शत्रु को बीमार करते हैं जी हां यदि आप अपने शत्रु से परेशान है और आज के समय में प्रत्येक मनुष्य के जीवन में कोई ना कोई शत्रु अवश्य रूप से होता ही है फिर चाहे वह प्रत्यक्ष रूप से हो या अप्रत्यक्ष रूप से हो. प्रत्यक्ष शत्रु मनुष्य के जीवन पर अनेक प्रकार से प्रहार करता है जिसके फलस्वरूप मनुष्य का जीवन अस्त-व्यस्त हो जाता है और इसके विपरीत अप्रत्यक्ष शत्रु मानव जीवन पर सीधे प्रभाव ना डालकर मानव जीवन को प्रभावित करता है हमारा आज का विचार दुश्मन या शत्रु के संबंध में ही है.

Dushman ko bimar karne ka upay tarike

Dushman Ko Bimar Karne Ka Tarika
Shatru Ko Bimar Karne Ka Mantra
दुश्मन से छुटकारा पाने का उपाय इन हिंदी
Dushman Ko Khatam Karne Ka Mantra
Dushman Ko Khatam Karna
दुश्मन को खत्म करने का मंत्र
Dushman Ko Tabah Karne Ka Mantra
Dushman Ko Khatam Karne Ka Tarika
Shatru Ko Marne Ka Mantra
दुश्मन से छुटकारा पाने का उपाय
Dushman Ko Bhagane Ka Upay
Kisi Ko Barbad Karne Ka Tarika In Hindi
Dushman Ko Bimar Karna
दुश्मन को भगाने का उपाय
Dushman Se Chutkara Pane Ke Upay In Hindi
Dushman Se Chutkara Pane Ka Upay
दुश्मन को बीमार करने का तरीका

Dushman Ko Khatam Karna प्रिय पाठकों यदि आप भी हमारे इस लेख को पढ़ रहे हैं तो आपके जीवन में भी कोई गुप्त शत्रु अवश्य होगा और आप उस शत्रु से छुटकारा पाने का या उस दुश्मन को नष्ट करने के लिए कोई युक्ति ढूंढ रहे होंगे. यदि आपके जीवन में ऐसा कोई मनुष्य है जो आपको प्रत्यक्ष या अप्रत्यक्ष रूप से हानि पहुंचा रहा है और आप अनेकों कोशिशों के बाद भी उस शत्रु को स्वयं से दूर नहीं कर पा रहे हैं या आपके मन में उस दुश्मन या शत्रु से प्रतिशोध लेने की भावना है तो आपको हमारा यह निबंध पूर्ण पढ़ना चाहिए क्योंकि आज हम हमारे इस लेख में दुश्मन को बीमार करने के तरीके या दुश्मन को खत्म करने के मंत्रों के बारे में लिख रहे हैं. आज हम ऐसे टोने टोटके या उपायों के बारे में लिख रहे हैं जिनकी सहायता से आप अपने शत्रुओं से प्रतिशोध प्राप्त कर सकते हैं और उन सभी शत्रुओं को हराकर उन पर पूर्ण रुप से विजय प्राप्त कर सकते हैं तो आइए जानते हैं दुश्मन को बीमार करने का तरीका या दुश्मन को खत्म करने के तांत्रिक व मांत्रिक टोटकों उपायों के बारे में

Dushman Ko Bimar Karne Ka Tarika सामाग्री
दुश्मन के पैर की मिट्टी
आक के पौधे की जड़
मांस का टुकड़ा
काले तिल
राई
काले उड़द की साबुत दाल
गीला आटा
काला कपड़ा
साबुत दाल
आटे का दीपक

Shatru Ko Bimar Karne Ka Mantra विधि__शनिवार की रात्रि में आप गीले आटे में दुश्मन के पैर की मिट्टी मिलाकर एक पुतला बनाएं और जमीन पर काले कपड़े को बिछा लें ! इसके पश्चात उस कपड़े पर तिल,राई व काले उड़द की दाल को मिलाकर एक ढेरी बना लें और उस पुतले को उस ढेरी पर स्थापित कर दें ! इस विधि को करने के बाद आप मांस के टुकड़े को उस पुतले पर रख दें और उसके समीप दीपक जला दें !इसके पश्चात आप आक की जड़ पर अपने मूत्र की 7 बूंद डालकर उसे निम्न मंत्र का उच्चारण करते हुए पुतले पर गिराए !

मंत्र____श्रीं ऐं ह्रीं हूँ हूँ ठः ठः ठः फट स्वः !

मंत्र का विधि पूर्वक जाप करने के बाद आप उस काले कपड़े में सभी सामग्री को बांधकर उसे आक के पौधे के नीचे दबा आएं ! इस टोटके को करने से आपका दुश्मन मृत्यु के समान कष्टों को भागेगा !

Dushman Ko Tabah Karne Ka Mantra सामाग्री
चौराहे की मिट्टी
सफेद कपड़ा
शत्रु के बाल
सिंदूर
कपूर
लवंग
मिट्टी का कलश

Dushman Ko Khatam Karne Ka Tarika विधि__शनिवार के दिन सूर्यास्त के पश्चात आप सफेद कपड़े पर सिंदूर को गिला करके त्रिभुज की आकृति बनाएं और उस निशान के मध्य में आप अपने शत्रु के बाल को रख दें ! इसके बाद आप मिट्टी के कलश में उस कपड़े को बाल सहित रख दें और लवंग कपूर व चौराहे की मिट्टी को अपने सिर के ऊपर से 51 बार घुमाते हुए निम्न मंत्र का उच्चारण करें !

ॐ____ऐं श्रां श्रीं श्रौं क्लौं भैरवाय नमः !

मंत्र का विधिपूर्वक जाप करने के बाद आप लवंग कपूर व चौराहे की मिट्टी को बालों पर रखकर जला दे और जब सब सामग्री जलकर शांत हो जाए तो आप इसमें गाय का कच्चा दूध भरकर चौराहे पर रख आएं ! इस टोटके को मंत्र सहित करने पर आपका दुश्मन आपसे दूर हो जाएगा और यदि आप अपने शत्रु को बीमार करना चाहते हैं या उसे हानि पहुंचाना चाहते हैं तो वह भी इस टोटके से संभव है !

Shatru Ko Marne Ka Mantra सामाग्री
जो का आटा
आक के पत्ते 04
तिल
सिंदूर
शमशान की लकड़ी
मिट्टी का दीपक 04
काला कपड़ा
नींबू

Dushman Ko Bhagane Ka Upay विधि____अमावस्या की मध्यरात्रि में आप काले कपड़े को जमीन पर बिछाए और आप जो के आटे में तिल मिलाकर पानी डालकर एक पुतले की आकृति बनाएं !इसके पश्चात आप शमशान से लाई गई लकड़ी को जलाकर कोयला बना ले और इस कोयले को बारीक पीसकर एक चूर्ण बना लें और इस चूर्ण मैं जल मिलाकर आक के सभी पत्तों पर अपने दुश्मन का नाम लिखकर सभी पत्तों को काले कपड़े पर रख दें ! इतनी विधि करने के बाद आप उस पुतले को इन पत्तों पर रख दे और सभी मिट्टी के दीपक उस पुतले के चारों तरफ रखकर सरसों के तेल से जला दें ! इतनी विधि पूर्ण कर लेने के बाद आप नींबू के चार टुकड़े करके उन चारों दीपक के ऊपर से 51 बार घुमाकर निम्न मंत्र का जाप करते हुए पुतले के चारों तरफ रख दें और सिंदूर को उस पुतले पर गिराए !

मंत्र____ॐ नमः काली काली महाकाली ह्रीं श्रीं क्लीं फट स्वः !

मंत्र को विधिपूर्वक 51 बार जपने के बाद आप काले कपड़े में सभी सामग्री को बांधकर अगले दिन सूर्योदय के बाद शमशान में जलती हुई चिता में डाल दें और सभी दीपक को वही किसी पेड़ के नीचे रख आएं ! इस टोटके को करने से आपका दुश्मन रोग से ग्रसित हो जाएगा और आपके शत्रु को शारीरिक हानि होगी !

error: Content is protected !!